जर्जर भवन में किसी भी दिन हो सकता है बड़ा हादसा , फिर भी छात्र बैठने को मजबूर, मामला सीधी जिले के सेमरिया का

0
242

सीधी एक्सप्रेस न्यूज, सेमरिया

सेमरिया – सेमरिया कस्बे के शा० गुरुकुल कन्या उ० मा० वि० का कच्चा खपरैल भवन पूरी तरह जर्जर हो गया हैं बारिश शुरु होते ही अध्ययनरत बालिकाओं को टपकते छत के नीचे बैठना पड़ रहा हैं जो खतरे से खाली नही हैं विद्यालय प्राचार्य की मानें तो छत तो वर्षों से जर्जर रहा भवन की दीवाल सही रही जो विद्यालय भवन के बगल से वन रहा अस्पताल भवन के ठेकेदार के सरहंगई से विद्यालय भवन के दीवाल के किनारे से बहाव का पानी निकलने के लिये बनाई गई नाली को नव निर्मित अस्पताल भवन से निकाली गई मिट्टी से स्कूल भवन की नाली को पाट दिया गया जबकि विद्यालय के प्रचार्य ने नाली नहीं पाटने की हिदायत दी थी फिर भी सरहंग ठेकेदार ने नाली में मिट्टी डलवा कर नाली को पाट दिया जिस वजह से बरसात का पानी दीवाल से रिस कर अन्दर फर्स में बहने लगा हैं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here