उबर इमरजेंसी एंबुलेंस सेवा को कलेक्टर ने दी अनुमति, मरीज काे छाेड़ने के बाद सबसे पहले करना हाेगा एंबुलेंस काे सैनिटाइज

0
49
  • पहले चरण में 50 एंबुलेंस चलेंगी, एम्बुलेंस के संचालन पर जिला प्रशासन के नियंत्रण होगा
  • इसके पहले मरीजों को अस्पताल से लाने- ले जाने के लिए 50 ओला एम्बुलेंस शुरू हुई थीं

इंदौर. कलेक्टर मनीष सिंह ने कोविड-19 से संबंधित आपातकालीन व्यवस्था के तहत उबर कैब प्राइवेट लिमिटेड को उबर इमरजेंसी एंबुलेंस सेवा के संचालन की अनुमति प्रदान कर दी है। उबर कैब द्वारा इस इमरजेंसी एंबुलेंस सेवा के संचालन के लिए यह आवश्यक होगा कि, प्रत्येक एंबुलेंस का उपयोग होने के पश्चात उसे सबसे पहले सैनिटाइज किया जाए और सैनिटाइजेशन संबंधी सामग्री उबर कंपनी के द्वारा प्रदान की जाए। एंबुलेंस के चालक को आवश्यक सुरक्षा उपकरण जैसे हैंड ग्लव्स, मास्क, कैप इत्यादि पहनना अनिवार्य होगा। इन एंबुलेंस की ट्रिप मात्र निर्धारित अस्पतालों पर ही पूर्ण हो सकेगी।

कलेक्टर सिंह ने बताया कि उक्त सेवा के लिए प्रथम चरण में कुल 50 एंबुलेंस का उपयोग किया जा सकेगा। एम्बुलेंस का संचालन पूर्णतः जिला प्रशासन के नियंत्रण में होगा और इसके लिए निर्धारित किए गए स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर का पालन करना अनिवार्य होगा। बता दें कि इसके पहले 17 अप्रैल काे मरीजों को अस्पताल और अस्पताल से घर ले जाने के लिए शहर में 50 ओला एम्बुलेंस शुरू हुई थीं। आमजन ओला कैब के एप पर जाकर ओला इमरजेंसी सेवा में क्लिक कर यह कैब बुक कर सकते हैं।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here