सीईओ जिला पंचायत द्वारा 15 ग्राम पंचायतों के तत्कालीन ग्राम सचिवों की दो-दो वेतनवद्धि ,,,,

0
529

सीधी एक्सप्रेस न्यूज़

दमोह | ,,, जिले की विभिन्न जनपदों के तत्कालीन ग्राम सचिवों द्वारा वित्तीय अनियमितता करने के आरोप में विभागीय जाँच संस्थित किये जाने के पारित आदेश के तहत प्रस्तुत जबाव संतोषप्रद नहीं पाये जाने के आरोप में शासकीय राशि स्वाहित में उपयोग कर विलंब से जमा करने पर धारा 92 के तहत मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत डॉ गिरीश मिश्रा ने 15 ग्राम पंचायतों के तत्कालीन ग्राम सचिवों की दो-दो वेतनवद्धि असंचयी प्रभाव से रोकी जाकर विभागीय जाँच समाप्त की है।
उल्लेखनीय है न्यायालय विहित प्राधिकारी एवं मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत द्वारा धारा 92 कं अंतर्गत प्रचलित प्रकरण में न्यायालय द्वारा पारित आदेश के तहत वसूली योग्य राशि ग्राम पंचायत में जमा की गई परन्तु वित्तीय अनियमितता करने के कारण विभागीय जाँच संस्थित किये जाने के आदेश पारित किये गये।
उक्त पारित आदेश के पालन में संबंधित तत्कालीन सचिवों के विरूद्ध विभागीय जाँच संस्थित किये जाने के पूर्व समक्ष में उपस्थित होकर अपना जबाव/उत्तर प्रस्तुत किये जाने हेतु नोटिस जारी होने उपरांत संबंधित सचिवों द्वारा अपने लिखित जबाव प्रस्तुत किये। प्रस्तुत जबाव संतोषप्रद नहीं पाये जाने के कारण संबंधित तत्कालीन सचिवों पर यह कार्यवाही की गई।
इन तत्कालीन सचिवों को की रोकी गई दो वेतनवृद्धि
उन्होंने वर्तमान जनपद पंचायत दमोह की ग्राम पंचायत खजरी सचिव शरद राज, जनपद पंचायत हटा की ग्राम डोली मुरलीधर, जनपद पंचायत पटेरा की ग्राम पंचायत बमनपुरा के सचिव ओमकार, ग्राम पंचायत मझगुवां हंसराज सचिव गनेश सेन, ग्राम पंचायत जमुनिया के सचिव प्रहलाद खंगार, जनपद पंचायत जबेरा की ग्राम पंचायत चौपरा सचिव देवसींग, ग्राम पंचायत बिजौरा के सचिव मिहीलाल, जनपद पंचायत तेन्दूखेड़ा की ग्राम पंचायत इमलीडोल के सचिव रामकुमार पाल, निलंबित सचिव वर्तमान ग्राम पंचायत तारादेही इमरत सिंह, जनपद पंचायत पथरिया की ग्राम पंचायत नरसिंहगढ़ सचिव प्रहलाद पटैल, ग्राम पंचायत बकेनी सचिव भीकम सिंह, ग्राम पंचायत सूखा के सचिव प्रताप‍सिंह, जनपद पंचायत बटियागढ़ की ग्राम पंचायत बसिया सचिव ओमकार प्रसाद पटैल, ग्राम पंचायत करौरा रामनगर सचिव फागूलाल साहू और ग्राम पंचायत मेनवार के सचिव महेश बिल्थरे सहित सभी सचिवों की दो-दो वेतनवद्धि असंचयी प्रभाव से रोकी जाकर विभागीय जाँच समाप्त की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here