सहायक आयुक्त आदिबासी विकास विभाग आनन्द मिश्रा सीधी के समर्थन में उतरा ,शासकीय अध्यापक/शिक्षक संघ एवं ट्रायबल वेलफेयर टीचर्स एशोसिएशन के द्वारा कले क्टर सीधी को सौंपा ज्ञापन।

0
73


   नवागत सहायक आयुक्त आनंद मिश्रा के समर्थन में एवम तृतीय श्रेणी लिपकीय कर्मचारी संघ के विरोध में शासकीय अध्यापक शिक्षक संघ,ट्रायबल वेलफेयर टीचर्स एशोसिएशन संघ  के द्वारा 11 जून गुरुवार को  कलेक्टर सीधी को ज्ञापन सौंपा गया है ज्ञापन में उल्लेख किया गया है कि गत दिवस दिनाँक 10जून बुधवार  को तृतीय श्रेणी लिपिकीय कर्मचारी संघ के द्वारा सहायक आयुक्त श्री आनंद मिश्रा जी के खिलाफ लाम बन्द होकर कलेक्टर महोदय सीधी को ज्ञापन सौंपकर दवाब बनाने की रणनीति बनाई गई थी  जबकि सच्चाई यह थी की हाल ही में सीधी सहायक आयुक्त पद पर श्री आनन्द मिश्रा की पोस्टिंग हुई है उनकी कार्यशैली निर्विबाद , स्वच्छ एवं साथ सुथरा कार्य करने की है जबकि आदिबासी विकास विभाग का लिपिकीय अमला 20 वर्षों से  ज्यादा समय से मलाई दार शाखाओं में  कुंडली  मारकर  बैठा है ।सहायक आयुक्त 

श्री मिश्रा द्वारा कई शाखाओं में व्यापक पैमाने पर गड़बड़ी पाए जाने पर सम्बंधित शाखा प्रभारियों के खिलाफ स्पष्टीकरण जारी किया गया है ।अपने कार्यकाल की कमियों को दबाने के उद्देश्य से लिपिकीय सम्बर्ग लामबंद होकर कलेक्टर महोदय को ज्ञापन सौपा।
लिपिकीय सम्बर्ग के कर्मचारियों के ज्ञापन के विरोध में एवं सहायक आयुक्त आदिबासी विकास विभाग सीधी के समर्थन में शासकीय अध्यापक/शिक्षक संघ एवं ट्रायबल वेलफेयर टीचर्स एसोशिएसन अब सामने आ चुका है और लिपिकीय सम्बर्ग के द्वारा सौंपे गए ज्ञापन की कड़ी भर्त्सना करते हुए बिगत सहायक आयुक्त के कार्यकाल की समस्त शाखाओं की व्यापक जाँच उच्चस्तरीय समिति से कराए जाने की मांग करते हुए सुरेश पाण्डेय के नेतृत्व में कलेक्टर सीधी को ज्ञापन सौंपकर न्याय पूर्ण जांच कराए जाने की मांग की गई है ज्ञापन देने बालों में जय भारत सिंह चौहान प्रांतीय उपाध्यक्ष,अभय राज योगी प्रांतीय प्रवक्ता,संजय पाण्डेय श्रवण कुमार मिश्र,राकेशद्विवेदी,गंगासागर त्रिपाठी,कमलेश पाण्डेय,राधेश्याम यादव, ,पंकज सिंह,एल बी सिंह,श्री भान जायसबाल,अनुरुद्ध पाण्डेय ,रामकुमार साकेत आदि प्रमुख रूप से शामिल थे।———इनका कहना है—-सुरेश पांडेय जिलाध्यक्ष अध्यापक संघ सीधी —-आदिवासी विकास विभाग का लिपकीय अमला जो मलाईदार शाखाओं में 20 वर्षों से काले कारनामे किये हैं उसको छिपाने एवम भविष्य के कार्यवाही से बचने के उद्देश्य से षडयंत्रपूर्वक सहायक आयुक्त के खिलाफ़ लिपिकों द्वारा ज्ञापन सौंपा गया है जिससे किये कारनामे की जांच न हो सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here