सीधी ,स्कूल शिक्षा विभाग की समीक्षा बैठक आयोजित विद्यालयों में अनुपस्थित शिक्षकों की जानकारी प्रतिदिन साझा करने के निर्देश,

0
8

सीधी | अपर कलेक्टर एवं प्रभारी सीईओ जिला पंचायत हर्षल पंचोली द्वारा मंगलवार को उत्कृष्ट विद्यालय सीधी में समस्त संकुल प्राचार्य, बी.ई.ओ., बी.आर.सी.सी. की बैठक में शैक्षणिक गुणवत्ता, 20 नवम्बर से आयोजित रिवीजन टेस्ट सी.एम.हेल्पलाईन, छात्रवृत्ति, निःशुल्क पाठ्यपुस्तक, अतिथि शिक्षक का मानदेय, पेंशन प्रकरण इत्यादि बिंदुओं की समीक्षा कर प्राचार्यो को निर्देश दिये गये। अपर कलेक्टर ने गतवर्ष के प्रयास की सराहना करते हुये प्राचार्यों को बधाई देते हुए कहा कि हमे यही नही रूकना है और अच्छा प्रयास करना है।
अपर कलेक्टर श्री पंचोली द्वारा सर्वप्रथम शिक्षकों की नियमित उपस्थिति के लिये निर्देश दिये गये। उन्होंने निर्देशित किया है कि प्रत्येक संकुल प्राचार्य अनुपस्थित शिक्षकों का नाम लिखकर प्राचार्य ग्रुप में व्हाट्सएप पर अनिवार्य रूप से करेंगे। लगातार 5 दिन तक अनुपस्थित रहने वाले शिक्षकों से बुलाकर उनके अनुपस्थिति का कारण पूछा जायेगा। बिना पूर्व सूचना एवं सक्षम अधिकारी के स्वीकृति के विद्यालय से अनुपस्थित रहने पर अनुशासनात्मक कार्यवाही की जाये। 20 नवम्बर से आयोजित रिवीजन टेस्ट के लिये प्रत्येक विद्यालय के लिये बी.ए.सी., सी.ए.सी. की ड्यूटी स्कूलवार लगाई जायेगी जो छात्रों की उपस्थिति बतायेगे। प्रत्येक संकुल प्राचार्य को प्रतिदिन स्कूल में उपस्थित होकर परीक्षा देने वाले छात्रा छात्राओं की संख्या एवं घर में रहकर कितने विद्यार्थियों ने परीक्षा दी इसकी जानकारी प्रत्येक दिन देना होगा। प्रत्येक 15 दिवस में संकुल प्राचार्यो की बैठक होगी। उन्होंने कहा कि जिन स्कूलों में छात्र ज्यादा उपस्थित होकर परीक्षा देंगे, यह माना जायेगा कि उस विद्यालय के प्राचार्य एवं शिक्षक द्वारा अच्छा कार्य किया गया है।
अपर कलेक्टर ने छात्रवृत्ति के प्रकरण, सी.एम.हेल्प लाईन के प्रकरण एवं पेशन प्रकरण का निराकरण तत्काल करने के निर्देश दिये हैं। उन्होंने निर्देशित किया है कि हेड स्टार्ट, स्मार्ट कक्ष तत्काल दुरूस्त करायें, जहां टी.वी खराब है उसे तत्काल सुधार करायें और छात्रों को म.प्र. दूरदर्शन से प्रसारित शैक्षिक कार्यक्रम का लाभ दिलायें। श्री पंचोली ने समस्त संकुल प्राचार्यों को निर्देशित किया कि आज तो उन्मुखीकरण था अगली बैठक में प्राचार्यों से सीधे बात होगी।
बैठक के प्रारम्भ में एपीसी डॉ. सुजीत मिश्र द्वारा गतवर्ष के परीक्षा परिणाम वृद्धि हेतु किये गये प्रयास को पी.पी.टी. द्वारा प्रस्तुत किया गया एवं इस वर्ष किये जा रहे प्रयासों से अवगत कराया।
बैठक में जिला शिक्षा अधिकारी नवल सिंह, डी.पी.सी. डॉ के.एम. द्विवेदी, राधेश्याम द्विवेदी, शम्भूनाथ त्रिपाठी, अशोक तिवारी ए.डी.पी.सी., डॉ. डी.के. द्विवेदी, रामकृष्ण तिवारी, रवीन्द्र त्रिपाठी प्रोग्रामर जिला शिक्षा केन्द्र सहित संबंधित विभागीय अधिकारी एवं संकुल प्राचार्य उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here