पंचायत मंत्री ने शासकीय हाईस्कूल भवन पोड़ी का किया लोकार्पण ,,,

0
229

सीधी एक्सप्रेस न्यूज़

सीधी |,,, पोड़ी में एक करोड़ रूपये लागत के शासकीय हाईस्कूल भवन का लोकार्पण करते हुए पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री कमलेश्वर पटेल ने कहा कि प्रदेश के हर बच्चे को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा उपलब्ध कराने के लिये सरकार अपनी पूरी ऊर्जा से प्रयास कर रही है। प्रदेश के दूरस्थ अंचलों में बच्चों की उपस्थिति के आधार पर शालाओं के उन्नयन का कार्य किया जा रहा है जिससे उन्हें घर के समीप ही अच्छी शिक्षा प्राप्त हो सकेगी।
पंचायत मंत्री श्री पटेल ने कहा कि शासन द्वारा शिक्षकों की भर्ती के लिये नीति का निर्धारण किया जा चुका है, शीघ्र ही भर्ती प्रारंभ होगी। उन्होने अभिभावकों से अपील की कि बच्चों को अनिवार्य रूप से विद्यालय भेजें तथा उन्हें शिक्षा दिलवायें। उन्होने कहा कि शासन ने विद्यालयों में नियमित अंतराल में अभिभावक-शिक्षक मीटिंग रखने के निर्देश जारी किए हैं। आप सभी उसमें सहभागिता करें और विद्यालयों के रख-रखाव में भी भागीदारी करें। उन्होने उपस्थित शिक्षा विभाग के अधिकारियों को विद्यालयों के सतत निरीक्षण एवं निगरानी के लिए निर्देशित किया। पंचायत मंत्री ने कहा कि बच्चों को अच्छी शिक्षा उपलब्ध कराना हम सब की जिम्मेदारी है। सभी की सक्रिय सहभागिता से एक शिक्षित और जागरूक समाज का निर्माण संभव है।
इसके साथ ही शासन द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं की जानकारी प्रदान करते हुए पंचायत मंत्री श्री पटेल ने कहा कि शासन सभी वर्गों के विकास के लिए कटिबद्ध है। सरकार ने जो भी वादे किए थे उसको क्रमशः योजनाओं के माध्यम से पूरा किया जा रहा है। गरीब एवं वंचित वर्ग के विकास के लिए विशेष प्रयास किए जा रहें हैं। किसानों के 2 लाख रुपए के कृषि ऋण माफी, कन्या विवाह/निकाह योजना की राशि को बढ़ाकर 51 हजार रुपए, सामाजिक सुरक्षा पेंशन को बढ़ाकर 6 सौ रुपए प्रतिमाह, तेन्दुपत्ता लाभांश की राशि में 5 सौ रुपए की वृद्धि की गयी है। उन्होंने कहा कि लोगों को बिजली के बिल से राहत देने के लिए इन्द्रा गृह ज्योति योजना प्रारम्भ की गयी है जिसके अंतर्गत 100 यूनिट के लिए केवल 100 रुपए बिजली का बिल आएगा। किसानों के 10 हार्स पावर के बिजली के बिल को आधा करने का कार्य किया गया है। अस्थायी बिजली कनेक्शन की राशि को भी आधा किया है। मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ ने आदिवासियों के हितों की रक्षा के लिए उनके निरस्त दावों के पुनः परीक्षण के निर्देश दिए हैं। सभी पात्र लोगों को वनाधिकार के पट्टे दिए जायेंगे। उनके देव स्थानों के संरक्षण के लिए आष्ठान योजना प्रारम्भ किया है।
इनकी रही उपस्थिति
कार्यक्रम में जनपद अध्यक्ष सिहावल श्रीमान सिंह, जिला पंचायत सदस्य नरेन्द्र सिंह, अंबिकेश पाण्डेय, अवधलाल सिंह, ज्ञानेंद्र द्विवेदी, हरिहर गोपाल मिश्र, उपखण्ड अधिकारी सिहावल आर के सिन्हा, जिला शिक्षा अधिकारी नवल सिंह, कार्यपालन यंत्री पीआईयू एन.के. परते सहित जन प्रतिनिधि, विभिन्न विभागों के जिलास्तरीय एवं खण्ड स्तरीय अधिकारी तथा ग्रामीणजन उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here